Breaking News

Date: 07-04-2017

टिकट कैंसिल होने पर बोले गायकवाड़- नहीं की बुकिंग, मुझे बदनाम करने की साजिश




शिवसेना के चप्पलमार सांसद रविंद्र गायकवाड़ की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं, गुरुवार को संसद में बयानबाजी और शिवसेना सांसदों के हंगामे के बावजूद अभी भी उनकी हवाई यात्रा करने से बैन नहीं हटा है. अब ऑल इंडिया केबिन क्रू एसोसिएशन ने कहा है कि गायकवाड़ सुरक्षा के नजरिये से ठीक नहीं है, अभी भी उनसे खतरा है. सरकार को उनके बारे में अभी और विचार करना चाहिए. ऑल इंडिया केबिन क्रू ने गायकवाड़ से बिना शर्त माफी मांगने की मांग की है, उन्होंने कहा कि जब तक वह बिना शर्त माफी नहीं मांगते हैं, उन्हें हवाई सफर की इजाजत नहीं मिलनी चाहिए. गायकवाड़ को लिखित रूप से सभी नियमों का पालन करने का वादा करना होगा. वहीं एअर इंडिया ने फिर से रवींद्र गायकवाड़ की 17 अप्रैल और 24 अप्रैल का हवाई टिकट कैंसिल कर दिया है. मैंने टिकट बुक नहीं करवाया वहीं रविंद्र गायकवाड़ ने आज तक से ऑफ कैमरा बात करते हुए कहा कि उन्होंने कोई टिकट बुक नहीं करवाया है, जो भी खबर चलाई जा रही है वह गलत खबर है. उन्होंने कहा कि मुझे बदनाम करने की कोशिश की जा रही है, मुझे पता चला है कि गायकवाड़ नाम देखते ही टिकट कैंसिल हो रही है. बल्कि मैंने संसद में कहा था कि मेरा आधार कार्ड देखने के बाद ही टिकट बुक किया जाये. गुरुवार को पहुंचे थे संसद गुरुवार को रविंद्र गायकवाड़ संसद पहुंचे थे, वहां उन्होंने कहा कि मेरे साथ इस मुद्दे पर अन्याय हो रहा है. यह एक जनप्रतिनिधि के साथ अन्याय हुआ है. गायकवाड़ ने कहा कि बिना जांच पड़ताल के साथ मेरे साथ मीडिया ट्रायल हुआ. रविंद्र गायकवाड़ ने कहा कि सत्य की विजय तो संसद में ही नहीं सब जगह होनी चाहिए. मेरे लिए तो आप (स्पीकर) मां जैसी हैं. मैंने क्या बुरा किया है? मेरा क्या अपराध है? जो मेरा मीडिया ट्रायल हो रहा है? सदन में उपस्थित रहने के लिए 24 मार्च को आ रहा था. मैंने सीट के लिए झगड़ा किया, मार पीट भी किया था. ये कहना गलत है. इकोनॉमी क्लास रहने के बाद भी मैं दिल्ली पहुंचा. शांति से क्रू को पूछा की शिकायत ले लो, लिखकर देने को तैयार था. पर उन्होंने मेरे से विवाद खड़ा किया. सांसद का आरोप- अफसर ने कहा था- मैं एअर इंडिया का बाप हूं उन्होंने कहा कि कर्मचारी ने मुझसे कहा कि मैं एअर इंडिया का बाप हूं. सांसद ने कहा कि मेरे संवैधानिक अधिकार की संसद रक्षा करे. गायकवाड़ ने कहा कि दिल्ली पुलिस इस मुद्दे पर अटेम्प्ट टू मर्डर का केस कैसे चला सकती है. उन्होंने कहा कि कंपनी ने विवाद के बाद मेरे नाम से 7 टिकट निकाले गये. उन्होंने कहा कि जब मैं गया ही नहीं तो मरे नाम से टिकट कैसे निकाले गये. संसद में हुआ हंगामा लोकसभा में सांसद के बयान के बाद शिवसेना सांसदों ने लोकसभा में हंगामा कर दिया. शिवसेना सांसदों ने उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू के साथ धक्का-मुक्की करने की कोशिश भी की. इस दौरान गृहमंत्री राजनाथ सिंह, स्मृति ईरानी समेत कई सांसदों ने बीच में आकर बचाव किया. शिवसेना की धमकी शिवसेना नेता और केंद्रीय मंत्री अनंत गीते ने धमकी दी कि अगर बैन नहीं हटाया तो मुंबई से फ्लाइट नहीं उड़ने देंगे. शिवसेना के बाकी सांसद उड्डयन मंत्री के खिलाफ नारेबाजी भी कर रहे थे. नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने इस मामले पर कहा कि जो सदन में हुआ है वह दुर्भाग्यपूर्ण है. होना नहीं चाहिए था. हम कोई न कोई रास्ता निकालने की कोशिश कर रहे हैं. ये था मामला? महाराष्ट्र के उस्मानाबाद से लोकसभा सदस्य गायकवाड़ ने पिछले महीने एअर इंडिया के एक 60 वर्षीय ड्यूटी प्रबंधक से दुर्व्यवहार किया था. उसे कई बार चप्पल से पीटा था. पीटने वाली यह बात उन्होंने खुद मीडिया से कही थी, पिटाई के समय वहां मौजूद विमान परिचारिका एक वीडियो में गायकवाड़ से यह कहती सुनी जा रही है कि सर, छोड़ दीजिए, मर जाएगा..आपको सजा हो जाएगी. लेकिन, उसने दो दिन बाद कहा, "गायकवाड़ का व्यवहार अच्छा था, वह ऐसा कर ही नहीं सकते.


Election Result